blogid : 1825 postid : 442

बच्चों का आई क्यू लेवल बढ़ाएं

Posted On: 1 Jul, 2010 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

बच्चों का आई क्यू लेवल बढ़ाएंहर मां-बाप यह चाहते हैं कि उनका बच्चा सामान्य से अधिक प्रतिभासंपन्न हो। लेकिन फिर भी हर बच्चा दूसरे से अलग होता है। तभी कक्षा में कोई प्रथम तो तो कोई सामान्य अंक पाता है। दरअसल इस अंतर का कारण उनका भिन्न आई क्यू लेवल होना होता है। यूं तो यह आई क्यू जन्मजात होता है, फिर भी यदि आप अपने बच्चों का आई क्यू लेवल बढ़ाना चाहती हैं तो कुछ उपाय अपनाइए:

 

1. बच्चों की गतिविधियां हमसे कहीं ज्यादा होती हैं, वे ज्यादा सक्रिय होते हैं, इसलिए उनकी चुस्ती को बरकरार रखने के लिए नौ से बारह घंटे की नींद ज़रूरी है। यह ध्यान रखें कि वह अपनी नींद पूरी करे। उसके कमरे में टीवी न रखें व सोने का नियम बनाएं।
2. जैसे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए व्यायाम ज़रूरी है, वैसे ही मस्तिष्क को स्वस्थ रखने के लिए मानसिक एक्सरसाइ़ज ज़रूरी है। शतरंज, प़जल, वर्ड प़जल, सुडोको जैसे गेम खेलने के लिए उसे प्रेरित करें।
3. उसकी रुचियों व शौक को पूरा करने में न केवल मदद करें, बल्कि प्रोत्साहन भी दें।
4. दिमा़गी सेहत के लिए संतुलित व पौष्टिक भोजन दें। मछली इस संबंध में बेहद फायदेमंद है। आयरन हमारे दिमा़ग को पर्याप्त ऑक्सीजन देता है, इसलिए उसे भरपूर आयरनयुक्त भोजन दें। ब्लड में ऑक्सीजन की कमी से दिमा़ग उतना सक्रिय होकर काम नहीं कर पाता। ता़जा व हरी सब्जियों के साथ फल भरपूर मात्रा में दें। जंक फूड व फास्ट फूड से उसको दूर रखें।
5. पढ़ने व रिवी़जन करने के घंटे निश्चित करें। इससे दिमा़ग सक्रिय रहता है। इन उपायों को अपनाकर देखें कि आपके बच्चे को कितना फायदा मिलता है। इनसे न केवल उसके ज्ञान में वृद्धि होगी, बल्कि आत्मविश्वास भी बढ़ेगा।

 

अगर आपका बच्चा कम नम्बर ले आता है तो उसे डांटें नहीं बल्कि उसके आहार व जीवनशैली पर ध्यान दें।

 

For more such articles visit us at http://www.onlymyhealth.com

 

 

| NEXT



Tags:         

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

पियुष के द्वारा
July 2, 2010

बचचों के विषय में यह लेख जागरण के सभी पाटःअओक को जरुर पढना चाहिए,

Sunny के द्वारा
July 2, 2010

बच्चों की दूसरो से तुलना आज सबसे आअम वजह होती है उनके मानसिक तनाव की लेकिन यह गलत बात हैओ लोगों को इसका ध्यान रखना चाहिए.


topic of the week



latest from jagran